जानिये हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण


हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण

नमस्कार दोस्तों| कैसे हैं आप सब? आज हम आपको बताने वाले हैं हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण हैं| चलिए शुरू करते हैं|

हर व्यक्ति अपनी तरफ से पोषक तथा संतुलित आहार खाने की कोशिश करता है| मगर कई बार हमारे busy schedule के कारण ऐसा हो नहीं पाता है| हमारे खानपान में कोई न कोई ऐसी कमी रह ही जाती है जिसका हमारी सेहत पर प्रतिकूल असर पड़ता है|

आज हम आपको detail में समझाएंगे कि हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण? क्योंकि बहुत से लोग इस ओर ध्यान नहीं देते| इसे normal सी बात समझकर ignore करने की भूल कर बैठते हैं| उसके बाद उन्हें कोई न कोई गंभीर बीमारी घेर ही लेती है| आइए सबसे पहले जान लेते हैं की झुनझुनी होती क्या है?

क्या होती है झुनझुनी?

दोस्तों, जब किसी व्यक्ति के हाथों और पैरों में या फिर त्वचा के किसी अन्य हिस्से पर किसी सुई के चुभने या फिर जलन होने का एहसास होता है| या कई बार ऐसा भी महसूस होता है कि जैसे आपको हाथ या पैर में बहुत सारी चींटियां एक साथ रेंग रही हों| इसी को कहते हैं झुनझुनी| हालांकि इसका कोई बहुत दीर्घकालिक प्रभाव नहीं पड़ता है|

झनझनाहट का अन्य भाषाओं में नाम

बहुत से लोग आम बोल चाल की भाषा में झनझनाहट को झुनझुनी चढ़ना भी कह देते हैं| आपको बता दें, झुनझुनी को English language में tingling भी कहा जाता है| कुछ लोग इसको शरीर में चींटी काटना या चिलकन होना भी कह देते हैं| कुछ लोग इसे पैर सो जाना भी कह देते हैं|

झुनझुनी को कब समझें गंभीर?

Friends, झुनझुनी चढ़ना आम बात है| बहुत बार जब हम लोग आराम करने के बाद उठते हैं तो हमारे हाथों और पैरों में अजीब सा एहसास होता है| आप में से बहुत से लोगों ने किसी न किसी को ऐसा कहते तो सुना ही होगा ‘पैर सो गया’|

ऐसा तब होता है जब हमारे शरीर का कोई हिस्सा ज्यादा लम्बे समय तक एक ही position में रहता है| ऐसे में शरीर के उस हिस्से पर दबाव पड़ जाता है और हमें झनझनाहट होने लगती है|

झुनझुनी के कारण

साथियों, हाथों या पैरों में झुनझुनी चढ़ना एक आम समस्या है जिससे लगभग हर कोई कभी न कभी जूझता रहता है| हमारे हाथों में तीन तरह की नसें होती हैं| पहली होती है median nerve जो हाथ के आगे की तरफ होती है| बहार की तरफ एक radial nerve होती है| तथा अंदर की तरफ जहां हमारी छोटी उंगली होती है वहां ulnar nerve मौजूद रहती है| अगर इन तीन नसों में से किसी भी नस में आपको तकलीफ है तो आपको हाथ में सुन्नपन की शिकायत हो सकती है| हाथ में झुनझुनी चढ़ने का एक कारण है कार्पल tunnel सिंड्रोम या जिसे हम medical terms में कहते हैं compressive neuropathy of upper limb इसका मतलब ये हुआ की जो नसें आपके हाथ में जाती हैं, अगर वो दब जाती हैं तो उन नसों के दबने के कारण आपको हाथों में सुन्नपन हो सकता है| ये समस्या ज्यादातर कार्पल tunnel सिंड्रोम के कारण होती है जो हमारी कलाई में होती है| कलाई के नीचे से जो nerve जाती है उसे median nerve बोलते हैं| इसके ऊपर एक transverse carpal ligament का जो space होता है उससे दब जाती है| 

तो इसके कारण आपको हाथों में झुनझुनी सी महसूस होने लगती है| या यूं कहें की आपका हाथ सुन्न पड़ना शुरू हो सकता है| आपको बता दें, रात के समय ही आपको ये तकलीफ ज्यादा होगी| इसकी वजह से आपको सुन्न हुई जगह पर दर्द महसूस हो सकता है| 

आपको कोई भी काम करने में भी कमजोरी आ सकती है| आइए अब जान लेते हैं की अगर आपके हाथों में सुन्नपन है तो आप कैसे पता करेंगे और इसके लिए क्या जांच करवाएंगे इस पर भी एक नजर डाल लेते हैं|

यह करवाएं जांच

अगर आपको लगातार हाथों में सुन्नपन की शिकायत रहती है तो आप तीन जांचें जरूर अपने नज़दीकी स्वास्थय केंद्र में जाकर करवाएं|

Blood Test

इस test में आपका ब्लड sample लेकर routine investigation करवाते हैं| इसके साथ ही आपका B12 का test भी इसमें cover हो जाता है|

Neck का MRI (Magnetic Resonance Imaging) Test

EMG (Electromyography) Test for nerves या NCV (Nerve Conduction Velocity) Study

अगर आपकी नसों में दबाव है जिसको हम कार्पल tunnel सिंड्रोम बोलते हैं, तो उस condition में EMG और NCV study test आपके लिए एक better option हो सकता है| कार्पल tunnel सिंड्रोम कुछ cases में बढ़ सकता है जैसे कि pregnancy में, या फिर अगर आपको thyroid है तो भी ये बढ़ सकता है| 

इसके अलावा अगर आपको diabetes है तो भी आपको कार्पल tunnel syndrome होने का risk level बहुत high रहता है| आमतौर पर ये एक हाथ पर होना संभव है लेकिन कई cases में ये दोनों हाथों में भी हो सकता है| ठीक इसी तरह एक और नस होती है जो आपकी कोहनी के अंदर दब सकती है| 

इसको cubital tunnel सिंड्रोम कहा जाता है| इस case में ulnar nerve कोहनी पर दब जाती है| इसके कारण से आपके हाथ का अंदर का हिस्सा सुन्न हो जाता है| यानि आपकी छोटी finger और आपकी ring finger दोनों में झुनझुनी चढ़ने लगती है| इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं की आपको ulnar nerve में compression आ रहा है|

हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होने के कारण

Weakness in hands and feet due to tingling feeling

Vitamin B12 की कमी

साथियों, विटामिन B12 को medicinal terms में Cobalamin भी कहा जाता है| आपको बता दें, ये ऐसा इकलौता विटामिन है जिसमें कोबाल्ट धातु पाई जाती है| अगर शरीर में Vitamin B12 की कमी हो जाए तो बहुत सी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं जिनमें से हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना भी एक है| vitamin b12 की कमी भारत में सबसे ज्यादा देखने को मिलती है| खासतौर पर ये उन मरीजों में ज्यादा होती है जो शाकाहारी होते हैं और animal diet का use कम करते हैं| जो लोग nonvegetarian होते हैं उनमें ये deficiency बहुत कम पाई जाती है| इसके अलावा vegan patients यानी जो दूध का भी सेवन नहीं करते हैं उनमें भी ये deficiency देखने को मिलती है|

अगर आपको झुनझुनी चढ़ रही है हाथ और पैर में तो तीन form में आपको vitamin B12 दिया जा सकता है| गोली की फॉर्म में, इंजेक्शन की form में और nasal spray की फॉर्म में|

रक्त संचार (Blood Flow) में कमी

दोस्तों, हमारे शरीर में रक्त संचार का ठीक तरीके से न होना भी हमारे लिए मुसीबत की कड़ी बन सकता है| रक्त संचार ठीक से न होना हमारी नसों को सबसे ज्यादा प्रभावित करता है और नसों पर बुरा असर डालता है| हमारी body में ठीक से oxygen की मात्रा हर body part तक नहीं पहुँच पाती है|

तो जहां oxygen level कम हो जाता है भले ही वो किसी भी कारण से हुआ हो| वहां पर हमें झुनझुनी का एहसास होने लगता है| उतना हिस्सा सुन्न पड़ जाता है| ऐसे में उस हाथ पैर की movement में भी दिक्कत आती है|

Endocrine Neuropathy भी है कारण

हाथ और पैर में सुन्न पन महसूस होना या बहुत तेज़ झुनझुनी चढ़ने का एक कारण Endocrine Neuropathy भी हो सकता है| इसी को हम Diabetic Neuropathy भी कह सकते हैं| क्यूंकि जो diabetic patients हैं उनमें नसों में कमजोरी आना, या बहुत ज्यादा नसें week हो जाना common है|

कई बार तो ऐसे मरीजों में conduction की कमी भी हो जाती है| इसके अलावा कुछ थाइरोइड patients जिनको diabetes भी है उनको भी हाथ और पैर में सुन्नपन की समस्या आ जाती है| अगर ऐसा आपके साथ भी है तो आपको primary रूप से अपना thyroid और sugar level को control करना होगा| तभी आपको इस झनझनाहट से राहत मिल पाएगी|

Cervical Disc के कारण होती है झुनझुनी

दोस्तों, हमारी गर्दन के अंदर एक cervical vertebrae होती है| हर vertebrae में एक cervical disc होती है| ऐसा बहुत बार होता है की ये जो disc है ये अपनी जगह से खिसक जाती है| इसे ही आम भाषा में गर्दन के मनके का खिसक जाना बोला जाता है| इसे ही PIVD (Prolapsed Intervertebral Disc) भी कहा जाता है| इससे होता ये है की जो नस आपके हाथ के upper limb से होकर गुजरती है उसे ये disc दबाने लगती है| कहीं न कहीं ये भी एक कारण बन सकता है आपके हाथ में सुन्नपन का|

फ्रेंड्स, आज हम बात कर रहे हैं हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण हैं? हमारा ये article पढ़ने के बाद आपको इससे रिलेटेड किसी भी प्रकार का doubt मन में नहीं रहने वाला है|  साथ ही अगर आप दाद खाज खुजली से परेशान है तो ये आर्टिकल जरूर पढ़े –जानिये दाद खाज खुजली की अंग्रेजी दवा Tablet के बारे में

इसके अतिरिक्त आपको इस बात की भी जानकारी होनी चाहिए की Delhi Me Ghumne Ki Jagah कौन-कौन सी हैं| क्यूंकि दिल्ली देश की राजधानी है और कभी न कभी तो आपका भी मन करता ही होगा दिल्ली की खूबसूरती को निहारने का और दिल्ली की सर्दी का एहसास करने का| क्यों, सही कहा न?

निष्कर्ष (Conclusion)

साथियों, आज आपको हमने इस बात की जानकारी दी की हाथ-पैरों में कमजोरी झुनझुनी का एहसास होना है किस बीमारी के लक्षण हैं? हमने आपको ये भी बताया की झुनझुनी को कब एक गंभीर बीमारी मान लेना चाहिए| क्यूंकि कुछ लोग इसे नजरअंदाज कर देते हैं और फिर बाद में उन्हें महंगी दवाओं और treatment का सहारा लेना पड़ता है|

झुनझुनी होने से आपके शरीर में चींटी के काटने जैसा एहसास होता है| आज के इस ज्ञान के सफर में बस इतना ही| आपके बीच फिर से हाजिर होंगे एक नई जानकारी लेकर|

Previous Delhi Me Ghumne Ki Jagah Jaaniye
Next Limcee Tablet Uses in Hindi