केसर से जुड़ी सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त करे।Kesar Ke Fayde


केसर
केसर से जुडी सभी प्रकार की जानकारी प्राप्त करे

नमस्कार दोस्तों, स्वागत है आपका हमारी website पर| दोस्तों, आज हम आपको बताने वाले हैं केसर के बारे में| अपने इस article के माध्यम से हम आपको बताएंगे की केसर की खेती कहां होती है? किन-किन देशों में केसर पाया जाता है? केसर को किन किन नामों से जाना जाता है| केसर का सेवन करने से आपको किन किन बीमारियों में फायदा पहुंचेगा हम आपको ये भी बताएंगे| इसके साथ ही केसर से होने वाले नुकसान के बारे में भी हम आपसे चर्चा करेंगे| चलिए शुरू करते हैं| वादा कीजिए की आप हमारे इस article को बहुत ही ध्यान से पढ़ेंगे और अंत तक हमारे साथ बने रहेंगे|

दोस्तों, एक तरफ सोना रख दिया जाए और दूसरी तरफ केसर तो केसर का पलड़ा भारी होगा क्यूंकी सोने और चांदी से भी अधिक महंगा बिकता है केसर| अगर आप बाजार में केसर लेने जाएंगे तो एक ग्राम केसर आपको करीब 250 रुपए में मिलेगा| इसका मतलब हुआ दस ग्राम केसर की कीमत हुई 2500 रुपए| अगर आपको एक किलो Kesar लेना है तो आपको लगभग तीन लाख रुपए खर्च करने पड़ेंगे| लेकिन क्या आपने कभी सोचा है की Kesar आखिर इतना महंगा क्यों होता है?

Kesar Kyo hota hai itna mhenga

Table of Contents

केसर क्यों होता है इतना महंगा?

Friends, Kesar की खेती करना कोई बच्चों का खेल नहीं है| Kesar पूरी दुनिया का सबसे लोकप्रिय मसाला है| केसर का स्वाद मीठा होता है और ये कई प्रकार के व्यंजनों में स्वाद को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है| Kesar जिस फूल से बनता है उस फूल का नाम है क्रोकस सैटिवस| एक फूल से Kesar के केवल तीन धागे ही निकलते हैं| यही कारण है की करीब एक किलो Kesar उगाने के लिए जितने फूलों की जरूरत होगी वो अगर हमने आपको बता दिया तो आपको यकीन नहीं होगा| 

आपको 440 volt का झटका लग सकता है| दरअसल एक किलो Kesar की खेती करने के लिए ही कम से कम 1 से 2 लाख फूल लगाने पड़ते हैं| ये तीन धागे बहुत ही नाजुक होते हैं जिन्हें machine से nikaalna imposible है| इसीलिए इसके लिए बहुत ज्यादा manpower लगती है| जिस दिन ये Kesar का फूल खिलता है उसी दिन इन Kesar के धागों को तोड़ना पड़ता है| क्यूंकि बाद में ये खराब हो जाता है| 

Kesar की खेती इतनी मुश्किल इसलिए भी है क्यूंकी Kesar को बहुत ही difficult climate में उगाया जाता है| इन फूलों के लिए ज्यादा नमी भी खतरनाक है और ज्यादा सूखा भी, ज्यादा गर्मी भी इसे problem देती है और ज्यादा ठंड भी| 

यहाँ तक की हवा की नमी की वजह से भी ये फूल खराब हो जाता है| Kesar धागे नाजुक होते हैं इसलिए इन्हें हाथों से ही निकलना होता है और इसमें बहुत ही ज्यादा manpower की जरूरत होती है| इन धागों को निकालने के बाद Kesar को सुखाना पड़ता है| Kesar की खेती करने वाले किसानों के लिए ये एक रिस्की काम है| इसलिए Kesar का दाम सबसे ज्यादा है|

Kesar के अन्य नाम

दोस्तों, केसर को कई अन्य नामों से भी जाना जाता है| चलिए आपको बताते हैं कि केसर को किस भाषा में क्या कहा जाता है| हिंदी में Kesar को केशर, केसर और जफ़रान कहते हैं| उर्दू भाषा में इसका नाम है जापैंरान| English में केसर को Saffron, Crocus और Crocus Saffron कहते हैं| संस्कृत में Kesar को केशर, कुमकुम, रक्त और काश्मीरज कहते हैं| कश्मीरी भाषा में इसे कोंग कहा जाता है|

अब आपको बताते हैं कि केसर में कौन-कौन से पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं?

केसर के पौष्टिक तत्व :

पानी  = 11. 9 ग्राम

फैट  = 5. 85 ग्राम

प्रोटीन = 11. 43 ग्राम

कैलोरी = 310 K Cal

आयरन = 11. 1 मिलीग्राम

कॉपर = 0.328 मिलीग्राम

फाइबर = 3. 9 ग्राम

कैल्शियम = 111 मिलीग्राम

Carbohydrate = 65.37 ग्राम

मैग्नीशियम = 264 मिलीग्राम

पोटेशियम =  1724 मिलीग्राम

फास्फोरस = 252 मिलीग्राम

सोडियम = 148 मिलीग्राम

ज़िंक = 1.09 मिलीग्राम

सेलेनियम = 5.6 माइक्रोग्राम

नियासिन = 1.46 मिलीग्राम

थियामिन = 0. 115 मिलीग्राम

फोलेट = 93 माइक्रोग्राम

विटामिन बी 6 = 1.01 मिलीग्राम

बीटा कैरोटीन = 27 माइक्रोग्राम

विटामिन ए – IU = 530 IU

ये तो हुई कुमकुम में पाए जाने वाले पोषक तत्वों की जानकारी| अब हम आपको बताएंगे की सैफ्रॉन कितने प्रकार के पाए जाते हैं? लेकिन दोस्तों अगर आप ये भी जानना चाहते हैं कि शहद के फायदे क्या हैं तो आप इस लिंक पर click करके पढ़ सकते हैं|

चलिए अब आपको बताते हैं की Saffron खाने के फायदे क्या-क्या हैं?

Kesar ke fayde

 केसर के फायदे

गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद :

दोस्तों, पुराने समय से एक परंपरा हमारे देश में चली आ रही है| वो है गर्भवती महिला को Kesar वाला दूध पिलाने की| इस बात में कोई शक नहीं है दोस्तों, की केसर बहुत सारे पोषक तत्वों से भरपूर होता है| इसलिए अगर pregnant women इसका सेवन करती है तो उनको कोई कमजोरी नहीं आएगी| पाचन तंत्र में सुधार आने लगता है| साथ ही उसकी immunity भी बढ़ जाती है| 

बहुत से लोगों का मानना है कि Kesar का दूध पीने से बच्चा गोरा पैदा होता है| बहुत बार ऐसा देखा गया है कि गर्भवती महिलाओं को पेट में दर्द अचानक ही होने लगता है| उसका कारण है गर्भाशय में मौजूद बच्चे का विकास| बच्चा पेट में कुछ हलचल करने लगता है इसके कारण pregnant women को भी दर्द शुरू हो जाता है| इसी दर्द को कम करने में Kesar जादूगर है|

Toxic Agents निकाले बाहर :

मित्रों, Saffron का दूध पीने से हमारी health पर बहुत ही अच्छा effect पड़ता है| Saffron जितना पौष्टिक है उतना ही tasty भी| बहुत से लोग Saffron डालकर दूध पीना पसंद करते हैं| Saffron मिलाकर दूध पीने से शरीर detoxified हो जाता है| हमारे शरीर में जितने भी टॉक्सिक agents मौजूद हैं उन सबको Saffron बाहर का रास्ता दिखा देता है|

Muscle strength को बढ़ाता है Saffron :

साथियों, अगर कोई एथलीट या gym करने वाला Saffron का सेवन करता है तो उसकी muscle strength काफी ज्यादा बढ़ जाती है| इसके सेवन से athlete  की performance में काफी ज्यादा सुधार आ जाता है|

Cholesterol घटाने में help करे :

जैसा की आप सब जानते हैं cholesterol अगर हमारे शरीर में बढ़ जाता है तो हमे कई सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है| बहुत सी बीमारियां हमें घेर लेती हैं| एक अच्छे खासे व्यक्ति को hospital पहुंचाने में cholesterol का बहुत बड़ा हाथ होता है| 

अगर आप चाहते हैं की आपकी जेब hospital का बिल भरने में ढीली ना हो तो आज ही कुमकुम का सेवन करना शुरू कर दीजिए| एक शोध में पता चला है की कुमकुम का सेवन दूध के साथ करने से बाद cholesterol कम होता है और good cholesterol बढ़ने में आसानी होती है| जिससे आपकी body चुस्त, दुरुस्त और तंदुरुस्त रहती है|

वजन कम करे Kesar :

Kesar के फायदे आपको वजन कम करने में भी मिलेंगे| वजन बढ़ना कोई फैशन नहीं है| ये एक गंभीर बीमारी है जिसे कई बार हम नजरअंदाज कर देते हैं| बहुत से ऐसे लोग हैं जो अपने बढ़े हुए वजन के कारण लोगों के सामने हसी का पात्र बनते हैं| 

किसी को लाला कहा जाता है तो किसी को मोटा सेठ सड़क पर लेट, ये कहकर चिढ़ाया जाता है| जिनका वजन बढ़ा हुआ होता है वो अपनी पसंद के कपड़े नहीं पेहन सकते हैं| अगर आप भी इस समस्या से परेशान हैं तो आज हम आपके लिए लेकर आए हैं एक ख़ास फार्मूला| 

आपको आज और अभी से Kesar का सेवन करना शुरू कर देना चाहिए| Kesar खाने से आपकी वो इच्छा कंट्रोल होती है जिससे आपका वजन बढ़ने के chances होते हैं| वो है बार बार हर थोड़े देर में कुछ खाने की इच्छा| ये आपको ज्यादा भूख नहीं लगने देता है जिससे आपका वजन आपकी height के हिसाब से ही रहता है और बढ़ता नहीं है|

तनाव को दूर करे Kesar :

दोस्तों, जैसा की आप जानते हैं, इन दिनों हर कोई किसी न किसी तनाव से गुजर रहा है| केवल युवा और बुजुर्ग ही नहीं, आजकल तो बच्चों तक को तनाव रहने लगा है| तनाव को हमें ignore नहीं करना चाहिए| तनाव अगर ज्यादा बढ़ जाए तो व्यक्ति depression में भी जा सकता है| ऐसे में कोमा तक जाने की नौबत आ जाती है| research में इस बात की पुष्टि हो चुकी है की Kesar का सेवन करने से तनाव की स्थिति से निजात पाने में काफी हद तक सहायता मिलती है|

Skin के लिए Kesar के फायदे :

दोस्तों, अगर आप चाहते हैं कि आपकी स्किन glow करे और आप आज से ही Kesar का सेवन करना शुरू कर दीजिए| Kesar आपकी skin के निखार को कुछ ही दिनों में बढ़ा देता है| इतना ही नहीं, त्वचा को नमी देने के लिए और मुलायम बनाने के लिए भी Kesar का फेस पैक लगाना किसी जादू से कम नहीं है| इसके साथ ही अगर आपके चेहरे या skin में कहीं भी टैनिंग की problem हो गई है तो आप उसे Kesar का सेवन करके दूर कर सकते हैं| अगर आपकी स्किन बहुत ही ज्यादा रूखी हो गई है तो आप उसे ठीक करने के लिए नियमित तौर पर Kesar का सेवन करना शुरू कर दीजिए| Scars को मिटाने के लिए भी Kesar रामबाण है|

कील-मुंहासे दूर करे Kesar :

जिन लोगों के चेहरे पर किसी भी कारण से कील मुंहासे निकल आए हैं| तो उन्हें भी Kesar का सेवन करना चाहिए| Kesar का सेवन करने के कुछ ही दिनों में आप देखेंगे की आपके चेहरे के कील – मुंहासे एकदम गायब हो गए हैं|

बालों के लिए Kesar के फायदे : 

भला ऐसा कौन सा शख्स होगा जिसे काले घने बाल पसंद नहीं होंगे| लेकिन जरा सोचिए अगर आपके बाल ही झाड़ जाएं तो क्या होगा| हर कोई आपको तड़ी मारने से नहीं चूकेगा| आपको देखकर सबको यही गाना याद आएगा की ‘देखो चाँद आया, चांद नजर आया|’ वैसे jokes apart| पर ये प्रॉब्लम ignore नहीं की जा सकती| अगर आपको भी बाल झड़ने की समस्या है तो आज ही अपने बालों में Kesar का तेल लगाएं| आप चाहें तो किसी अन्य तेल में भी Kesar के तेल को मिलाकर लगा सकते हैं| इससे आपके बाल झड़ना बंद हो जाएंगे| क्यूंकी Kesar में antioxidant गुण होते हैं जो आपके बालों को पोषण देते हैं और उन्हें झड़ने से रोकते हैं| बालों की जड़ों और रोमछिद्रों को साफ़ करने में भी Kesar महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है| बालों को मुलायम बनाने में तो Kesar का कोई मुकाबला ही नहीं है| ये स्वस्थ बालों के विकास में मददगार होता है| दोस्तों, आपने कार mechanic, स्कूटर mechanic और बाइक mechanic भी सुने होंगे लेकिन क्या आपने कभी hair mechanic के बारे में सुना है? नहीं सुना तो अब जान लीजिए| Kesar ही हमारा hair mechanic होता है| ये हमारे damage बालों को रिपेयर करने का काम भी करता है|

अल्सर के इलाज में मददगार :

दोस्तों, अल्सर एक बहुत ही गंभीर बीमारी है| Kesar इस बीमारी को भी ठीक करने में सक्षम है| इसके साथ ही कोलाइटिस के इलाज में भी Kesar काफी helpful होता है|

अपच को ठीक करे Kesar :

मित्रों, अगर आपको अपच की शिकायत रहती है| कुछ भी खाया पिया पचता नहीं है तो इस समस्या को दूर करने का perfect इलाज है Saffron| अगर आप नियमित रूप से और सीमित मात्रा में Saffron का सेवन करते हैं तो आपको अपच की problem से बहुत जल्द निजात मिलेगी और पाचन तंत्र मजबूत होगा|

इम्युनिटी बढ़ाए :

कोरोना काल में अगर सबसे ज्यादा बार कोई word use किया गया है तो वो है इम्यूनिटी| कोरोना काल में ऐसा कोई घर नहीं होगा जहां immunity का ध्यान न दिया जा रहा हो| एक टाइम था जब मेहमानों के आने पर चाय या ठंडा पूछा जाता था, लेकिन आज कोई किसी के घर मेहमान बनकर जाए तो एक ही सवाल पूछते हैं क्या लेंगे आप गर्म पानी या काढ़ा? उधर मेज़बान ने ये पूछा नहीं की इधर मेहमान की हवा tight हो जाती है| Immunity strong होगी तो केवल कोरोना ही नहीं, कोई भी बीमारी हमें छू भी नहीं पाएगी| Saffron (Kesar) को regularly खाने से हमारे शरीर में दिन भर ऊर्जा बनी रहती है| इतना ही नहीं, ये हमारे mind को भी alert mode में रखता है|

मासिक धर्म में Kesar खाने के फायदे :

मासिक धर्म का समय एक महिलाओं या युवतियों के लिए एक चुनौती भरा समय होता है| मासिक धर्म वो प्रक्रिया है जो एक महिला को मां बनने में सहायक होती है| इस दौरान न केवल शारीरिक बल्कि मानसिक बदलाव भी एक महिला में देखे जा सकते हैं जिन्हें हम hormonal changes का नाम देते हैं| इस दौरान महिलाओं के शरीर से काफी मात्रा में खून का रिसाव होता है| इससे उन्हें कमजोरी भी आती है और पेड़ू तथा अन्य जगहों पर काफी दर्द बढ़ जाता है| ऐसे में अगर महिलाएं केसर का सेवन करें तो उनको इस दर्द से बहुत हद तक राहत मिल सकती है| इसके लिए आपको करना ये है की 10 ग्राम केसर और 100 ग्राम अगरकरा को पीस कर इसका सेवन करना है|

Heart Disease में लाभदायक है Kesar :

साथियों, आप तो जानते ही हैं की वैसे तो हमारे शरीर के सभी अंग महत्वपूर्ण हैं, लेकिन ये ‘दिल’ यानी ‘Heart’ ऐसा विशेष अंग है जिसके बिना हम जीने की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं| अगर गाड़ी का इंजन खराब हो जाए तो एक पल के लिए हम गाड़ी को चला सकते हैं, लेकिन अगर हमारा दिल धड़कना बंद कर दे तो अगले ही पल हमारी मौत हो जाती है| इसलिए अगर आप चाहते हैं की आपका heart अच्छे से काम करे और आप healthy और long लाइफ जिएं तो आपको अपने heart को लगातार रिश्वत देनी पड़ेगी| इसे पोषक तत्वों से भरपूर खाना देना पड़ेगा| Cholesterol से दूरी बनानी पड़ेगी| जो हमारे heart को पसंद हो वही खाना पड़ेगा| तो देर किस बात की है| अभी से आप Kesar का इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए| Kesar का सेवन करने से आपको कभी भी health related diseases नहीं होंगी| आपका heart भी healthy रहेगा और साथ ही artries यानी धमनियों और नसों को भी Saffron का इस्तेमाल करके स्वस्थ रखा जा सकता है| जिससे आपका ब्लड अच्छे से हर body part में फ्लो होगा|

हड्डियों का अच्छा दोस्त है Saffron :

Friends, अगर थोड़ा सा काम करने पर ही आपके शरीर की हड्डियां चटकने लगी हैं तो समझ लीजिए आपकी हड्डियां कमजोर हो रही हैं| हड्डियों को मजबूती मिलती है कैल्सियम से| Kesar में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम मौजूद होता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है| Saffron का सेवन करने से हमारी ये problem कुछ ही दिनों में दूर हो जाती है| इसलिए केसर को हड्डियों का अच्छा दोस्त भी कहा जा सकता है|

Hormonal Imbalance में राहत दिलाए :

कई बार कुछ कारणों से हमारे शरीर में hormonal imbalance की समस्या उत्पन्न हो जाती है| हॉर्मोन्स अगर imbalance हो जाते हैं तो शरीर में कुछ अनचाहे बदलाव आने लगते हैं| कमजोरी सी महसूस होने लगती है| Kesar के इस्तेमाल से आपको इस बीमारी में भी राहत मिलेगी|

दोस्तों, आपको याद दिला दें, आज हम आपको बता रहे हैं केसर के फायदे के बारे में| केसर के फायदे तो आपने सुने ही होंगे| लेकिन केसर के फायदे, जो हम बता रहे हैं उसके बारे में शायद ही आपने पहले कभी सुना हो| केसर के फायदे इतने हैं की गिनती ख़त्म हो जाएगी but केसर के फायदे ख़त्म नहीं होंगे| केसर के फायदे आपको तभी मिलेंगे जब आप हमारे article को ध्यान से पढ़ेंगे और वो भी शुरू से लेकर अंत तक| केसर के फायदे जानकर आप निश्चित तौर पर केसर का सेवन शुरू कर देंगे|

मूड फ्रेश करे :

दोस्तों, अगर आप किसी वजह से बहुत ज्यादा अपसेट हैं और आपको कुछ भी खाने पीने का मन नहीं है| किसी से बात करने का या कोई भी काम करने में मन नहीं लग रहा है तो आप केसर के दूध का सेवन करें| इससे कुछ ही seconds में आपको जो भी tension है सब खल्लास हो जाएगी और आपका मूड फिर से फ्रेश हो जाएगा| एक बारे try जरूर करिएगा|

केसर का दूध बढ़ाए पौरुष शक्ति :

Kesar को अगर हम शक्तिमान की संज्ञा दे दें, तो कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी| आयुर्वेद में केसर का सेवन करना काफी फायदेमंद माना गया है| इसके सेवन से पौरुष शक्ति में तेज़ी से वृद्धि होती है| यही कारण है की सुहागरात पर पुरुषों को केसर का दूध पीने की सलाह दी जाती है| केसर का सेवन बहुत अधिक शारीरिक बल प्रदान करता है|

Kesar का लाभ छोटे बच्चों के लिए :

दोस्तों, Kesar का सेवन करना सभी के लिए लाभकारी होता है| अक्सर छोटे बच्चों को सर्दी जुकाम की शिकायत हो जाती है| अगर आपके घर में भी किसी बच्चे को सर्दी जुकाम की दिक्कत है तो Kesar को पीस कर दूध में मिला लें और उसका लेप तैयार कर लें| इस लेप को छोटे बच्चे की छाती पर लगाएं| इससे उन्हें बहुत जल्द सर्दी से छुटकारा मिल जाएगा|

आंतों से सम्बंधित समस्या से निजात :

मित्रों, आंतें हमारे शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा हैं| अगर हमारी आंतें सही नहीं रहेंगी तो हमारा खाना ठीक से नहीं पचेगा| जिस कारण हमें अपच की शिकायत भी हो जाती है| पाचन तंत्र कमजोर हो जाता है| इसलिए अगर आप अपने पाचन तंत्र को दुरुस्त रखना चाहते हैं तो आपको अपनी आँतों का ख़याल रखना होगा| इसके लिए आप रोज़ाना 10 से 15 मिलीग्राम Kesar का काढ़ा बना कर पिएं| आपकी आंतें स्वस्थ रहेंगी और आप भी मस्त रहेंगे| क्यों सही कहा न|

मूत्र विकारों में उपयोगी है Kesar :

Friends, Kesar का उपयोग करने से मूत्र संबंधी विकार अपने आप दूर हो जाते हैं| अगर आपका पेशाब रुक रुक कर आ रहा है और जल्दी जल्दी आपको बाथरूम जाना पड़ रहा है तो आपको केसर का सेवन लगातार करना है| 10 से 15 मिलीग्राम Kesar का काढ़ा बना लें| अब उसमे नमक मिला लें और इसका सेवन करें| कुछ ही दिनों में आपकी ये problem भी stop हो जाएगी| आप एक और काम भी कर सकते हैं| Kesar को रात भर पानी में भिगो कर रखें| सुबह के समय उसे पीस लें और उसमें शहद मिला दें| इसका सेवन अगर आप लगातार करते हैं तो मूत्र से सम्बन्धित जितने भी विकार आपको हैं सब के सब छूमंतर हो जाएंगे|

हैजा को दूर भगाए Kesar :

जिन लोगों को हैजा की बीमारी हो गई है उनके लिए तो केसर किसी वरदान से कम तो बिलकुल नहीं है| इसके लिए करना बस इतना होगा की 5 मिलीग्राम नींबू का रस लेना है| इसमें थोड़ा सा kesar डालकर उसको छटने से हैजा की बीमारी आपसे कोसों दूर भाग जाएगी|

मानसिक विकारों में फायदेमंद है kesar :

दोस्तों, बहुत से ऐसे लोग हैं जो किसी न किसी प्रकार के मानसिक विकार से जूझ रहे हैं| ऐसे में उन्हें हमारी यही सलाह है की वो केसर का सेवन जरूर करें| मानसिक विकारों में kesar का सेवन आपको ब्राह्मी के साथ करना है| 15 से 20 मिलीग्राम Kesar लेकर उसका काढ़ा बना लें| इसे आप ब्राह्मी के साथ लेना शुरू कर दें| मानसिक विकारों में तुरंत लाभ मिलने लगेगा|

पेट दर्द की समस्या से राहत :

Friends अगर आपको पेट दर्द की शिकायत है| दवा लेने पर भी पेट का दर्द नहीं जा रहा है तो आपको Kesar का सेवन करना चाहिए| इसके लिए करना ये है की दालचीनी और Kesar की छोटी छोटी गोलियां बना लें| इससे पेट दर्द में तुरंत लाभ मिलेगा|

याददाश्त बढ़ाता है kesar :

दोस्तों, अगर आप लगातार केसर का सेवन करते हैं तो आपकी याददाश्त बहुत बढ़ जाएगी| आपको कुछ भी याद रखने में दिक्कत नहीं होगी| क्यूंकी अक्सर ये देखा जाता है की लोग कोई भी सामान रखकर भूल जाया करते हैं की उन्होंने वो सामान कहां रखा था? या बाजार जाने पर क्या सामान लेने आए हैं ये तक भी लोग भूल जाते हैं| अगर आप Kesar का सेवन करते हैं तो आपकी ये समस्या दूर हो जाएगी| इतना ही नहीं दोस्तों, Kesar का इस्तेमाल करने से एकाग्रता शक्ति भी बढ़ती है जो students के लिए important है| अगर आपकी एकाग्रता बढ़ेगी तो आप अपना lesson अच्छे से याद कर पाएंगे| फिर आपको क्लास या state में top करने से कोई नहीं रोक सकता|

मोतियाबिंद को दूर करता है kesar :

दोस्तों, जिन लोगों को मोतियाबिंद की शिकायत है, उनकी परेशानी केवल वो ही समझ सकते हैं| इसे दूर करने के लिए केसर के गुणों को अपनी आँखों तक पहुंचाना होगा| इसके पोषक तत्व वाले सिपाही मोतियाबिंद को आँखों की रोशनी की लड़ाई में हरा देंगे|

मसूड़ों की सूजन दूर करे :

दोस्तों, अगर आप kesar का सेवन लगातार करते हैं तो आपके मसूड़ों की सूजन बहुत जल्दी दूर हो जाती है| इसके साथ ही अगर मसूड़ों में कोई घाव बन गया है तो उसे भी भरने का काम करता है|

सिरदर्द से दिलाए राहत :

अगर किसी को काफी देर से सिरदर्द हो रहा है तो इसके लिए सबसे अच्छा उपाय है केसर| Kesar और चंदन को पीसकर उसका लेप अगर माथे पर लगाते हैं तो सिरदर्द में आराम मिलता है| दिमाग शांत और ठंडा रहता है| गुस्से पर भी control हो जाता है|

अनिद्रा में केसर के फायदे :

दोस्तों, अगर आप रात में Kesar वाला दूध पिएंगे तो इससे आपका स्ट्रेस level कम होगा| जब stress level कम होगा तो आपको नींद ना आने की समस्या यानी की अनिद्रा से भी राहत मिलेगी|

केसर खाने के नुकसान :

Kesar khane ke nuksaan

तो दोस्तों, ये थे केसर के फायदे| चलिए अब आपको बताते हैं की Kesarका सेवन ज्यादा मात्रा में करने से क्या क्या नुकसान झेलने पड़ सकते हैं|

गर्मी के दिनों में न करें सेवन :

मित्रों| Kesar की तासीर गर्म होती है| इसलिए अगर आप Kesar का गर्मी के मौसम में सेवन करते हैं तो आपको फायदे के बदले नुकसान उठाना पड़ सकता है|

तीन से चार रेशों का ही सेवन करें :

जब भी आप Kesar का सेवन करें तो ध्यान रखें कि आपको तीन से चार रेशों से ज्यादा इसका सेवन नहीं करना है| चाहे आप इसे दूध में डालकर लें या अन्य प्रकार से इसका सेवन करें| अगर आप इससे ज्यादा मात्रा में सेवन करते हैं तो हो सकता है आप अपने होश गवा बैठें| इसके साथ ही आपको भूख कम लगने की भी दिक्कत होने लगेगी| या फिर आपको खुजली या एलर्जी की समस्या भी हो सकती है|

Pregnancy के दौरान दिक्कत :

वैसे तो कहा जाता है की प्रेग्नेंट वीमेन के लिए Kesar का सेवन करना लाभदायक होता है| इससे आने वाला baby गोरा पैदा होता है| लेकिन ऐसा भी देखा गया है की कुछ महिलाओं को kesar के सेवन से जी मिचलाने, मुँह सूखने, बेचैनी होने लगती है| उसे बार बार उल्टियां भी आनी शुरू हो जाती हैं| इस कारण शरीर के सभी पोषक तत्व बाहर आ जाते हैं और कमजोरी महसूस होने लगती है| Experts का मानना है की प्रेगनेंसी के शुरुआती दिनों में kesar का सेवन करना खतरनाक साबित हो सकता है| इससे miscarriage होने के भी chances बढ़ जाते हैं क्यूंकी kesar की तासीर गर्म होती है जो शरीर का तापमान भी बढ़ा देती है| इसलिए doctor की advice के बिना kesar का सेवन प्रेग्नेंट वीमेन को नहीं करना चाहिए|

लिवर की बीमारी में घातक है kesar का सेवन

जो लोग liver की बीमारी से पीड़ित हैं या जो किडनी और bone marrow की problem face कर रहे हैं उनके लिए kesar का सेवन खतरनाक साबित हो सकता है| ऐसे लोगों को केसर के फायदे मिलने की बजाए नुकसान ही होगा|

निष्कर्ष (Conclusion) :

Friends, हम आपके well wisher हैं| आपकी सेहत का ध्यान रखना हमारी जिम्मेदारी है| इसीलिए हम आपको स्वस्थ रखने के लिए हम कुछ न कुछ health टिप्स आपके लिए लाते रहते हैं| इसी कड़ी में आज हमने आपको बताया की केसर के फायदे क्या हैं? 

केसर के फायदे के बारे में हर दिन internet पर लाखों लोग search करते हैं| केसर के फायदे के अलावा हमने आपको ये भी बताया कि kesar खाने से आपको क्या नुकसान हो सकता है? केसर की खेती के बारे में भी आपको हमने अपने इस article में जानकारी दी| केसर की खेती करना इतना मुश्किल क्यों है ये भी आपको मालूम हो गया| 

केसर की खेती कहाँ पर की जाती है ये भी हमने बता दिया है| केसर की खेती में क्या रिस्क फैक्टर है इसकी भी knowledge आपको हो गई होगी| केसर की खेती कैसे करे इस बारे में रोज internet पर लोग सर्च करते हैं| बहुत सी websites आपको show हो जाएंगी जिसमें बता रखा होगा की केसर की खेती कैसे करे? लेकिन अब आपको केसर की खेती कैसे करे इस सवाल का जवाब मिल ही गया होगा हमारी post को पढ़कर| चलिए दोस्तों अब जानते हैं की केसर को लेकर लोगों के मन में कौन-कौन से doubts रहते हैं?

FAQs (Fast Asking Questions) :

Q1 : केसर खाने का सही तरीका क्या है ?

A1 : केसर का सेवन करने का अलग अलग तरीका है| अगर सर्दी हो तो रात के समय एक चुटकी केसर एक गिलास दूध में डालकर सेवन करें| अगर आप केसर को और भी ज्यादा स्वादिष्ट बनाना चाहते हैं तो उसमें केसर मिला सकते हैं| इससे खाने को रंग भी मिलेगा और उसका स्वाद भी दोगुना हो जाएगा| इसके साथ ही केसर और चीनी के मिश्रण से आप एक ड्रेसिंग (मीठा व्यंजन) भी तैयार कर सकते हैं| आप चाहें तो केसर powder को दूध में मिलाकर भी इसका सेवन कर सकते हैं|

Q2 : एक दिन में कितनी मात्रा में केसर का सेवन करना चाहिए?

A2 : जो लोग केसर का इस्तेमाल करते हैं उन्हें इस बात का ध्यान रखना चाहिए की एक दिन में करीब 3 से 4 केसर के धागे का ही आपको सेवन करना है|

Q3 : केसर कितने प्रकार का होता है ?

A3 : आयुर्वेद के अनुसार भारत में तीन प्रकार का केसर पाया जाता है|

काश्मीरज केसर : इस प्रकार का केसर लाल रंग का होता है| इसी को कश्मीरी केसर भी कहा जाता है| काश्मीरज केसर बहुत ही सूक्ष्म तंतुओं से युक्त होता है| इसकी गंध कमल जैसी होती है|

बाल्हिकज केसर : इस केसर का नाम बाल्हिकज केसर इसलिए पड़ा क्यूंकि ये केसर बल्ख – बुखारा देश का केसर है| यह केसर दिखने में पीले रंग का होता है| इसे सूंघने पर मधु यानी की शहद जैसी गंध आती है| गुणों की बात की जाए तो कश्मीरी केसर के मुकाबले ये कम गुणों वाला होता है|

पारसीकाज केसर : दोस्तों, अब बारी आती है पारसीकाज केसर की| इसकी विशेषता यह होती है की ये स्थूल तंतु वाला होता है| इसी को ईरान देश का केसर बोलै जाता है| इसके अंदर से भी शहद की ही गंध आती है| कश्मीरी केसर के मुकाबले ये बहुत कम गुणों वाला होता है|

Q4 : केसर खाने का सही समय क्या है ?

A4 : दोस्तों केसर को खाने का सही समय यह है की आप इसे खाना खाने के 1 घंटे बाद दूध में डालकर पी सकते हैं| अगर आप केसर का दूध रात के समय पीना चाहते हैं तो इसे आपको करीब 8 बजे से 9 बजे के बीच में पीना चाहिए| तभी आपको केसर के फायदे मिलेंगे|

Q5 : असली केसर की पहचान कैसे करें?

A5 : दोस्तों, आजकल मिलावट खोरों ने किसी चीज़ को नहीं छोड़ा है| हर खाने, पीने की वस्तुओं में मिलावट करके ये मोटा पैसा कमाते हैं| आज हम आपको बताते हैं की असली केसर की पहचान आप कैसे कर सकते हैं? इसके लिए आपको करना बस इतना है कि एक कटोरी में ठंडा पानी ले लें| उसमें केसर की एक से दो strips डाल दें| अगर नकली केसर होगा या उसमें कोई रंग या chemical मिला होगा तो वो अपना रंग तुरंत छोड़ना शुरू कर देगा| जबकि दोस्तों, जो असली केसर होता है वो अपना रंग छोड़ने में करीब 60 seconds का समय तो ले लेता है|

Previous जानिये शहद कैसे बनता है और शहद को खाने के फायदे क्या है ? Shahad Kaise Bnta Hai
Next Jaaniye Multani Mitti Aur Usse Jude Fayde|मुल्तानी मिट्टी